Alert: वेलेंटाइन डे से पहले हुआ 450 करोड़ रूपये के ‘रोमांस फ्रॉड’ का पर्दाफाश, जानिए क्या है मामला

0
170

टेक डेस्क: वेलेंटाइन डे से पहले प्यार की तलाश में जुटे लोगों को सावधान करने के लिए रोचक लेकिन डराने वाले आंकड़े जारी किए गए हैं। इन आंकड़ों के मुताबिक देश में सालाना करीब 450 करोड़ रुपए का रोमांस फ्रॉड होता है। रोमांस फ्रॉड का मतलब है कि डेटिंग एप या सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों पर फेक प्रोफाइल बनाकर किसी के साथ रिलेशनशिप बनाना और फिर धोखे से उसका पैसा लेकर चंपत हो जाना।

आपको बता दें ये रिपोर्ट ब्रिटेन के पुलिस रिपोर्टिंग सेंटर ‘एक्शन फ्रॉड’ ने दी है। आंकड़ों के मुताबिक 2018 में ब्रिटेन में रोमांस फ्रॉड से जुड़ी 4,555 रिपोर्ट दर्ज कराई गईं। इन सभी मामलों में पीड़ितों को कुल 450 करोड़ रुपए का चूना लगा। 2017 की तुलना में यह 27% ज्यादा है। रिपोर्ट के मुताबिक रोमांस फ्रॉड का शिकार होने वालों में 63% महिलाएं शामिल हैं। इनकी औसत उम्र 50 साल है।

पीड़ितों में 42% ने माना कि धन का नुकसान झेलने के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य पर भी बुरा असर हुआ। एक्शन फ्रॉड के मुताबिक ये आंकड़े वास्तविक पैमाने को जाहिर नहीं करते हैं। शर्म और बेइज्जती की आशंका में कई पीड़ित रोमांस फ्रॉड की शिकायत दर्ज नहीं कराते। पुलिस ने बताया कि, पीड़ित को लगता है कि उसे परफेक्ट पार्टनर मिल गया है। लेकिन, दूसरी ओर मौजूद अपराधी उसका विश्वास जीतकर पैसे ऐंठता है या इतनी निजी जानकारी हासिल कर लेता है जिससे पीड़ित की आइडेंटिटी चुराई जा सके।

एक्शन फ्रॉड की टीम डेट सेफ नाम के ग्रुप के साथ मिलकर ब्रिटेन के लोगों को ऐसे मामलों से बचाने के लिए जागरूकता प्रोग्राम भी चला रही है। डेट सेफ ग्रुप में लंदन पुलिस, गेट सेफ ऑनलाइन, मेट्रोपोलिटन पुलिस, एज यूके, विक्टिम सपोर्ट जैसे ऑर्गेनाइजेशन भी शामिल हैं।

पुलिस एक्शन फ्रॉड मामलों में पीड़ित की मदद की पूरी कोशिश करती है लेकिन वह आम तौर पर लुट चुका पैसा वापस नहीं करा पाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अपराधी आम तौर पर अपनी असल पहचान कभी जाहिर नहीं करते हैं। वे डेटिंग एप या सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट इस्तेमाल करने के लिए अपने आईपी को मास्क कर लेते हैं।

हालांकि ऐसी कोई घटना भारत में नहीं हुई है लेकिन जुर्म के हाथ कितने लंबे हो सकते हैं इसका अंदाजा कोई नहीं लगा सकता। हम आपसे केवल इतना कहेंगे कि ऑनलाइन रिलेशनशिप में जल्दी न करें। प्रोफाइल की जगह व्यक्ति को जानने की कोशिश करें। खूब सवाल पूछें। उसके बाद कोई फैसला लें।

ये भी पढ़ें:

जून परीक्षा के लिए अपडेट हुआ NET का सेलेबस, जानिए क्या हुए बदलाव

उग्र हुआ गुर्जर आंदोलन, कहीं फूंकीं गाड़ियां तो कहीं किया रेलवे ट्रैक जाम, देखें तस्वीरें
प्रियंका-राहुल का रोड शो जारी, लगे ‘चौकीदार चोर है’ के नारे, देखें Video
क्या इशारों ही इशारों में अपनी ही सरकार के खिलाफ बोल रहे हैं गडकरी, जानिए अब क्या बयान दिया
दमदार है मेरे प्यारे प्राइम मिनिस्टर का ट्रेलर,दिल छू लेगी 8 साल के बच्चे की कहानी

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here