जीवन के इन 7 खास मौके पर जब आपके मुंह से निकलता है, ‘मां कहां हो तुम?’

0
175

जिंदगी की भागदौड़ में कुछ नए रिश्ते बनते हैं, जिनके साथ हम वक्त बीताते हैं जैसे हमारा लाइफ पार्टनर, गॉसिप्स और शॉपिंग करने के लिए बहन और दोस्त, कुछ सलाह लेने के लिए पापा या कोई वो शख्स जिसकी बातों पर आपको विश्वास हो। ऐसे शख्स हम सब की जिंदगी में होते हैं। लेकिन इन सब के बीच एक शख्स है जो कहीं खो जाता है।

जी हां हमारी मां, जो हमें हर वक्त याद आती है। जिसके बिना हमारे सारे काम अधूरे हैं लेकिन इन सबके बावजूद हमें उसे दोस्त, भाई-बहन पिता आदि-आदि लोगों के बीच से नजरअंदाज कर डालते हैं। आज हम आपको ऐसे ही कुछ काम याद दिलाते हैं जब आपको अपनी मां की सबसे ज्यादा जरूरत होती है और आप कहते हैं मां आप कहां हो…।।

जब सुबह का नाश्ता चाहिए हो-
हम सुबह उठते ही कुछ मनचाहा खाना खाने की डिंमाड कर दें या आधी रात में भूख लगने लगे। कुछ ही मिनटों में हमारा पेट भर ही जाता है। हमें उस पल अपनी मां की याद आती है और कहते हैं मां आप कहां हो…।

जब खाना बनाना हो-
आप चाहे स्कूल-कॉलेज के स्टूडेंट हो या शादीशुदा हो। किसी भी उम्र में आपको कुकिंग सिखाने के लिए बेस्ट टीचर होती हैं आपकी मां। याद रखिए आप कहीं भी होंगे किसी भी खाने की डिश को जानने के लिए सबसे पहला फोन आपकी मां को जाएगा।

जब कोई चीज खो गई हो-
अक्सर हमारी कोई चीज खो जाती है तो हम अपनी मां को याद करते हैं। क्यों कभी सोचा…मालूम नहीं लेकिन हम जानते हैं जो किसी को नहीं मिलेगा वो मां को तुरंत मिल जाएगा। मां में एक अजीब सी सुपरपॉवर होती है जो अपने बच्चे की नहीं पूरे घर की चीजों का ख्याल रखती है।

जब कोई खास बात शेयर करनी हो-
हम सब के कई दोस्त होते हैं और हम उनसे अपने सभी बड़े-बड़े राज शेयर करते हैं लेकिन मां हमारी ब्रेस्टफ्रेंड होती है। जब हम उससे वो बात कहकर हल्का महसूस होते हैं जो हमें तनाव में घेरे रखती है। तो मान गए ना आपके दोस्तों की लिस्ट कितनी ही लंबी हो लेकिन वक्त आने पर मां ही बेस्ट फ्रेंड का रोल निभाती है।

जब शादी का फैसला लेना हो-
चाहे आप कितने ही बड़े क्यों न हो जाएं लेकिन लाइफ का कोई भी बड़ा निर्णय मां से पूछे बिना नहीं लिया जा सकता। जब तक उनकी ‘हां’ का ठप्पा ना लग जाए, मामला आगे नहीं बढ़ता और ऐसा करियर और शादी जैसे फैसले में अक्सर मां का बड़ा रोल देखा जाता है।

मां सच बोलती है-
मां आपकी वो दोस्त है जो कभी आपसे झूठ नहीं बोलेगी, जो आपको कभी झूठी खुशी नहीं देगी जो दुनिया में बाकी लोग आपको देते हैं। फिर चाहें आपका अच्छा दिखना हो, आपकी च्वाइंस हो, करियर हो या फिर किसी भी प्रकार की सलाह। मां हमेशा सच कहेंगी।

जब आपका ब्रेकअप हो-
भले ही आपकी मां आपके रिलेशनशिप में होने की बात से नाखुश हो, लेकिन दिल टूट जाने पर आपको उससे बेहतर कोई नहीं संभाल सकता। दोस्त आपको तसल्ली दे सकते हैं लेकिन हौसला मां से ही मिलता है। मां की दो बातें भी आपको फिर से मजबूत बनाने के लिए काफी है। इसलिए ज्यादातर लोग इस दौरान अपनी मां को याद करते हैं।

ऐसे तो मां को हम सलाह और सपनें पूरे होने पर याद करते हैं लेकिन ये कुछ पल हैं जब हमें सबसे ज्यादा अपनी मां की जरूरत महसूस होती है और हम कहते हैं मां तुम कहा हो। तो क्या आप भी इन सब बातों को पढ़ने के बाद मानते हैं कि मां हमारे जीवन में सबसे खास है।

ये भी पढ़ें:

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं