93 दिन की मेहनत के बाद सिंघम के हत्थे चढ़ा शातिर अपराधी : गोमांस भी जब्त

0
133
शुजालपुर : वो कहते है ना कि मेहनत का फल मीठा होता है या यु कहा जाये की अगर किसी काम को करने की ठान लो तो सारी कायनात आपको सफलता दिलाने में लग जाती हैं । ऐसा ही कुछ कर दिखाया यहाँ के सिंघम आर एस दांगी   ने । अकोदिया पुलिस थाना अंतर्गत लगने वाले मुडलाय गांव में पिछले 13 वर्षों से गांव के ही 33 वर्षीय  युवा गोमांस   गांव में ही अनेक बार गाय की हत्याएं भी कर चुका था । ऐसे कई संगीन मामले इस युवा पर पुलिस थाना अकोदिया, सलसलाई, और  बुरहानपुर जैसे पुलिस थानों में दर्ज थे ।
पिछले 4 माह पूर्व में एसआई के रूप में थाना इंचार्ज बन कर अकोदिया आए आर एस दांगी  ने अपनी बाजीगरी के चलते कार्य को अंजाम देना शुरू कर दिया था । जैसे-जैसे पुरानी फाइलों पर कार्यवाही का क्रम शुरू हुआ तो आरोपी की  फाइल पर भी प्रमुखता से गोर कर पिछले 93 दिन पहले से प्रक्रिया प्रारंभ कर दी थी लेकिन उक्त आरोपी इतना शातिर बदमाश था कि वह हर समय पुलिस को चकमा देकर भागने में सफलता हासिल कर ही लेता था ।
आखिरकार  सोमवार को पुलिस थाना अकोदिया की टीम ने घेराबंदी कर बुडलाय गांव से ही पिछले 13 वर्षों से गाय के  गोवंश की तस्करी कर रहे इकबाल पिता सत्ता निवासी मुडलाय को 11: बजे  15 किलो गाय का गोमांश  सहित गिरफ्तार किया ।  पुलिस थाना अकोदिया में राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम की धारा के तहत मामला दर्ज कर  केंद्रीय जेल भेरूगढ़ उज्जैन पहुंचा दिया गया ।
पुलिस थाना अकोदिया के सब इंस्पैक्टर आर एस दांगी  ने जानकारी देते हुए बताया कि जब से अकोदिया में पदस्थ हुआ हूँ  तभी से मेरी निगाह जुर्म करने वालों पर हैं । इसी क्रम में उक्त आरोपी को जो 13 वर्षो से पुलिस को चकमा दे रहा था, उसको गिरफ्तार कर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम की कार्रवाई करके जेल भेज दिया गया ।
अभियान में यादव श्री राम वर्मा, आनंद शर्मा, निरज शर्मा, सुखराम सिंह, शुभम रघुवंशी, देवेन्द्र दुबे, अनुरोध पाल, रवि रघुवंशी और  कमल मेहर सहित अनेक पुलिसकर्मियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही ।
रिपोर्टर : सिद्धनाथ जादव