अब दुनिया में नहीं रहे जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश

0
149

वाशिंगटन: पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश का 94 की उम्र में निधन हो गया है। उनके परिवार के प्रवक्ता ने यह दुखद खबर दी। बता दें कि सीनियर बुश लंबे वक्त से बीमार थे। जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश अमेरिका के 41वें राष्ट्रपति थे। साल 1988 में राष्ट्रपति चुने जाने से पहले वह संयुक्त राष्ट्र और चीन में अमेरिका के राजदूत रह चुके थे। वह सीआईए के निदेशक भी थे।

सीनियर बुश के बेटे और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्लू. बुश की तरफ से उनके पारिवारिक प्रवक्ता ने ट्विटर पर बयान जारी कर बताया, ‘यह सूचित करते हुए मैं, जेब, नील और मार्विन बहुत दुखी हैं कि 94 उल्लेखनीय वर्षों के बाद हमारे पिता अब दुनिया में नहीं रहे। जॉर्ज एच. डब्लू. बुश उच्चतम चरित्र की शख्सियत थे और वह बेटों और बेटियों के सर्वश्रेष्ठ पिता थे।’

बताते चले, बुश के समय में ही खाड़ी का पहला युद्ध हुआ था। उस वक्त जब इराक ने कुवैत पर हमला बोल दिया था उस वक्त जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश के नेतृत्व में ही अमेरिका ने इराक के तानाशाह सद्दाम हुसैन को रोका था।

वह 1989 से 1993 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे। बता दें कि उनकी पत्नी बार्बरा बुश का भी इसी साल करीब 8 महीने पहले 92 साल की उम्र में निधन हुआ है। जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश के कार्यकाल में ही यूएसएसआर यानी सोवियत संघ का विघटन हुआ और शीत युद्ध का खात्मा हुआ था।

उन्हीं के कार्यकाल में इराक के तानाशाह सद्दाम हुसैन को मात खानी पड़ी और कुवैत को सद्दाम के कोप से बचाने में अमेरिका सफल रहा। इसके बावजूद जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश को दूसरा कार्यकाल नहीं मिला।

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं