देश में वनों की स्थिति पर रिपोर्ट जारी, जानिए किन 15 राज्यों में बढ़ी जंगलों की संख्या

0
72

नई दिल्ली: देश में 2 साल में 6,778 वर्ग किमी जंगल बढ़े हैं। कुल जंगल क्षेत्र के हिसाब से भारत अब दुनिया के टॉप-10 देशों में शुमार हो गया है। ये बातें सोमवार को जारी रिपोर्ट से सामने आई है। केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री हर्षवर्द्धन ने देश में वन की स्थिति पर द्विवार्षिक रिपोर्ट-2017 जारी की। इस रिपोर्ट के मुताबिक- 2015 में देश में कुल वन क्षेत्र 7.01 लाख वर्ग किमी था, जो 2017 में बढ़कर 7.08 लाख वर्ग किमी हो गया।

ये हिस्सा भारत के कुल भूभाग का 21.54% है। हालांकि वन क्षेत्र में इजाफे की दर अभी भी 1% ही है। इन 2 साल यानी 2015 से 2017 के बीच देश में 1 हेक्टेयर से कम इलाके में बसे जंगलों में 1,243 वर्ग किमी का इजाफा हुआ है। अब ऐसे जंगल 93,815 वर्ग किमी में फैले हैं।

आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, ओडिशा और तेलंगाना में इन 2 साल में सबसे ज्यादा जंगल बढ़े। जबकि मिजोरम, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा और मेघालय में सबसे ज्यादा जंगल घटे। मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा 77,414 वर्ग किमी जमीन पर जंगल हैं। दूसरे नंबर पर अरुणाचल प्रदेश (66,964 वर्ग किमी) और तीसरे पर छत्तीसगढ़ (55,547 वर्ग किमी) है।

कुल जंगलों में टॉप-3 
राज्य      कुल जंगल
मध्यप्रदेश- 77,414
अरुणाचल- प्रदेश 66,964
छत्तीसगढ़- 55,547

टॉप-3, जहां जंगल बढ़े 
राज्य       इजाफा 
आंध्र प्रदेश- 2,141
कर्नाटक- 1,101
केरल- 1,043

जल स्रोतों में टॉप-3 
राज्य    इजाफा 
महाराष्ट्र- 432
गुजरात- 428
मध्यप्रदेश- 389

रिपोर्ट जारी करते हुए डॉ. हर्षवर्द्धन ने कहा कि- ‘हरित भारत मिशन, राष्ट्रीय कृषि वानिकी नीति और संयुक्त वन प्रबंधन जैसी वन संरक्षण नीतियों की बदौलत ही देश के हरित क्षेत्र में बढ़ोतरी हुई है। वन क्षेत्रफल के मामले में अब हम टॉप-10 में हैं। लेकिन हमें ये भी देखना चाहिए कि बाकी 9 देशों में जनसंख्या घनत्व भारत के 382 के मुकाबले 150 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी है। दुनिया के कुल भूक्षेत्र का 2.4% भारत में ही है। इस लिहाज से हमने देश में वन क्षेत्रों को बढ़ाने में अच्छा काम किया है।’

ये भी पढ़ें:

 रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर। आप हमें फेसबुकट्विटर और यूट्यूब पर फॉलो भी करें)