बिना खाए-पिए ध्यान करने वाले बाबा पर लगा बलात्कार का आरोप, लाखों भक्तों को झटका

0
180

नेपाल के एक चर्चित आध्यात्मिक गुरु का मामला सामने आया है। राम बहादुर बोमजन बुद्धा बॉय के रूप में फेमस हैं और भक्त उन्हें बुद्ध का अवतार मानते हैं। अब उनके ही भक्तों ने उनपर यौन हिंसा का आरोप लगाया है। गार्जियन में छपी खबर के अनुसार, नेपाल के केंद्रीय जांच ब्यूरो ने पुष्टि की है कि गुरु के खिलाफ जांच शुरू की गई, लेकिन अधिक जानकारी नहीं दी गई है। इससे पहले गुरु पर आरोप लगे थे कि उनके आश्रम से कई भक्त गायब हो गए हैं।

काठमांडू पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, आश्रम से करीब 300 मीटर दूर पुलिस को जमीन के नीचे से नमक की नौ बोरियों मिली थीं, लेकिन वहां से शव के अवशेष नहीं मिले। पुलिस को शक है कि संचलाल की हत्या कर दी गई है। डीएसपी बिमलराज कंडेल ने कहा कि बहुत संभव है कि लापता भक्त के शव को कहीं और जलाया गया हो।

लापता भक्तों के परिवार वालों ने 28 दिसंबर को सरकार से इस मामले की जांच की मांग की थी। राजधानी काठमांडू में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान परिजनों ने 28 वर्षीय बामजान को पीडोफाइल (बाल प्रेमी) और हत्यारा बताया था। सिंधुपालचोक के अलावा बामजान का नवलपारसी और बारा में आश्रम हैं, जो अब पुलिस और केंद्रीय एजेंसी की जांच के दायरे में आ गए हैं।

कैसे हुए फेमस-
बुद्धा बॉय के नाम से प्रसिद्ध गुरू सबसे पहले 2005 में फेमस हुए जब उनके भक्तों ने ये कहना शुरू किया कि 28 साल के गुरू महीनों तक बिना खाए-पिए और बिना सोए हुए ध्यान कर सकते हैं। नेपाल में राम बहादुर बोमजन बुद्धा बॉय के कई लाखों फॉलोअर्स हैं। उनके भक्तों का कहना है कि बुद्धा बॉय नेपाल के जंगलों में रहते हैं।

कब आया पहला मामला-
बीते साल सितंबर में 18 साल की नन ने आरोप लगाया था कि उन्होंने अपने आश्रम में उनका रेप किया. इसके अलावा करीब एक दर्जन अन्य लोगों ने भी उत्पीड़न के आरोप लगाए। बोमजन ने कहा था कि उन्होंने ध्यान भंग करने के लिए पिटाई की थी। वहीं, बोमजन से जुड़े बोधी श्रवण धर्म संघ ने हाल ही में एक वेबसाइट द्वारा नए आरोप प्रकाशित किए जाने पर खंडन जारी किया था।

ये भी पढ़ें:

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं