बैंकों पर जल्द लगने जा रही है GST, ये सर्विस होगी महंगी

0
55

नई दिल्ली: बैंकधारकों के लिए एक बड़ी खबर आई। दरअसल जीएसटी की वजह से बैंकों की सर्विस महंगी हो सकती है। जिसका खामियाजा आपको अपनी जेब से देना होगा। खबरों के मुताबिक, बैंक चेक बुक, एटीएम कार्ड जैसे सर्विसेज की कीमत वसूल सकते हैं। अभी मिनिमम बैलेंस वाले अकाउंट होल्डर्स को यह सर्विस फ्री में मिल रही है लेकिन टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से बैंकों को मिले नोटिस के बाद आगे से चेकबुक और एटीएम कार्ड जैसे फ्री सर्विस के लिए पैसे देने पड़ सकते हैं। इसके साथ ही बैंक सभी सर्विसेज के चार्ज बढ़ा सकते हैं।

ग्राहकों को पिछले सालों के दौरान भेजे गए चेकबुक पर एटीएम कार्ड जैसे सर्विसेज पर बैंकों से रेस्ट्रोस्पेक्टिव टैक्स वसूला जा सकता है। टैक्स डिपार्टमेंट ने बैंकों की ओर से भेजी जाने वाली चेकबुक सर्विस और एटीएम कार्ड पर जीएसटी नोटिस भेजा है। इस पर इंडियन बैंक्स एसोसिएशन बैंक ने पीएमओ से हस्तक्षेप की दरख्वास्त की लेकिन पीएमओ ने दखल देने से इनकार कर दिया और बैंक एसोसिशन को टैक्स डिपार्टमेंट के नोटिस का जवाब देने को कहा है

आपको बता दें, बैंक उन लोगों से चेक बुक और एटीएम कार्ड का चार्ज लेते हैं जिनका नो-फ्रील या जीरो मिनिमम बैलेंस अकाउंट होता है लेकिन उन लोगों को यह सर्विस फ्री में देते हैं, जिनका अकाउंट मिनिमम बैलेंस वाला होता है। अब टैक्स डिपार्टमेंट कह रहा है कि जिन लोगों को यह सर्विस पहले दी गई है उस पर उसे अब टैक्स देना होगा। यह टैक्स 15000 करोड़ रुपये का बन रहा है और अगर यह ब्याज मिला कर वसूला जाएगा तो यह बढ़ कर 35,000 करोड़ तक पहुंच सकता है।

किस बैंक पर कितना टैक्स

  • एचडीएफसी बैंक – 6500 करोड़ रुपये
  • आईसीआईसीआई बैंक – 3500 करोड़ रुपये
  • एक्सिस बैंक – 2500 करोड़ रुपये
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया – 1000 करोड़ रुपये

ये भी पढ़ें:

रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं