SSC पेपर लीक: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब, 13 दिनों बाद भी प्रदर्शन के लिए जुटे हैं छात्र

0
72

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की परीक्षा का पेपर लीक के आरोपों की जांच कराने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई के लिए तारीख तय कर ली गई है। सुप्रीम कोर्ट इस पर 19 मार्च को सुनवाई करेगा। बता दें 13 से छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं।

द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक शीर्ष अदालत ने इस बारे में केंद्र सरकार से जवाब मांगा है। यह मामला 17 फरवरी से 21 फरवरी के बीच आयोजित कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल (सीजीएल) परीक्षा का पेपर लीक होने से जुड़ा है। प्रतियोगी छात्रों ने एसएससी द्वारा 21 फरवरी को आयोजित परीक्षा का पेपर लीक होने और बड़े पैमाने पर नकल होने का आरोप लगाया था।

हालांकि, एसएससी ने तकनीकी वजह बताते हुए 21 फरवरी की परीक्षा को रद्द कर दिया था और नौ मार्च को दोबारा परीक्षा कराने का फैसला किया था लेकिन, प्रतियोगी छात्रों ने एसएससी में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए इसकी जांच के लिए एसएससी मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन शुरू कर दिया था।

पांच मार्च को छात्रों की मांग मानते हुए केंद्र सरकार ने इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का आदेश दिया था। कर्मचारी चयन आयोग केंद्र सरकार के लिए टैक्स इंस्पेक्टर से लेकर अकाउंटेंट जैसे पदों के लिए भर्तियां करता है।

सोशल मीडिया पर शुरू हुआ कैपेन-
बताया जा रहा है कि परीक्षाओं में धांधली से तंग आकर कुछ स्टूडेंट्स ने सोशल मीडिया में मुहिम छेड़ी थी। इसके बाद बिहार, यूपी, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र समेत देशभर के अलग-अलग राज्यों छात्र यहां पहुंचना शुरू हो गए। प्रदर्शन कर रहे स्टूडेंट्स में ज्यादातर दिल्ली में परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। इस प्रदर्शन को लेकर अन्ना हजारे का बयान में भी सामने आया था। उन्होंने युवाओं को हिंसा नहीं बल्कि शांतिपूर्वक अपना गु्स्सा जाहिर करने की बात कही थी।

 रूचि के अनुसार खबरें पढ़ने के लिए यहां किल्क कीजिए

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर। आप हमें फेसबुकट्विटर और यूट्यूब पर फॉलो भी करें)