मूर्ख दिवस पर ट्रेंड हुआ #PappuDiwas, जानिए क्यों मनाया जाता है April Fool Day

3
72

आज 1 तारीख है यानी अप्रैल फूल है। इस दिन को लेकर कई कहानियां प्रचलित है। इतिहास पर नजर डाली जाए तो 1 अप्रैल के दिन कई फनी घटनाएं हुई, जिसके चलते इस दिन को अप्रैल फूल-डे के तौर पर मनाया जाने लगा। कहा जाता है कि अप्रैल फूल्स डे (मूर्ख दिवस) की शुरुआत फ्रांस में 1582 में उस वक्त हुई, जब पोप चार्ल्स 9 ने पुराने कैलेंडर की जगह नया रोमन कैलेंडर शुरू किया।

बताया जाता है कि इस दौरान कुछ लोग पुरानी तारीख पर ही नया साल मनाते रहे और उन्हें ही अप्रैल फूल्स कहा गया। हालांकि मूर्ख दिवस को लेकर कई अन्य कहानियां भी प्रचलित हैं। कई रिपोर्ट्स में दावा किया जाता है कि इसकी शुरुआत 1392 भी बताई जाती है, लेकिन इसके कोई पुख्ता प्रमाण नहीं है।

वहीं कई रिपोर्ट्स में कहा गया है कि साल 1508 में एक फ्रांसीसी कवि ने एक प्वाइजन डी एवरिल (अप्रैल फूल) का सन्दर्भ दिया था। वहीं 1539 में फ्लेमिश कवि ‘डे डेने’ ने एक अमीर आदमी के बारे में लिखा, जिसने 1 अप्रैल को अपने नौकरों को मूर्खतापूर्ण कार्यों के लिए भेजा था। ऐसी ही कई अन्य कहानियां भी प्रचलित हैं लेकिन आज तक कोई ये नहीं बता पाया है आखिर हम 1 अप्रैल को मूर्ख दिवस क्यों मनाते हैं। अगर आपको भी कोई कहानी पता हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ#PappuDiwas

ट्विटर पर 1अप्रैल (मूर्ख दिवस) के मौके पर #PappuDiwas काफी ट्रेंड कर रहा है। इस हैशटैग का इस्तेमाल कर अलग-अलग पार्टी के समर्थक अपनी-अपनी बात, मीम्स, वीडियो आदि शेयर कर रहे हैं. बता दें, #PappuDiwas हैशटैग का इस्तेमाल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए काफी इस्तेमाल हो रहा है। देखें कुछ ट्वीट्स

ये भी पढ़ें:
ISRO ने फिर रचा इतिहास, सैटेलाइट एमिसैट इन कामों में करेगी भारत की मदद
आज रात 12 बजे तक निपटा लें ये काम, नहीं तो होगा नुकसान
पीएम मोदी का ‘मैं भी चौकीदार’ मेगा शो शुरू, यहां देखें लाइव वीडियो
राहुल गांधी अमेठी के साथ-साथ केरल की इस सीट से भी लड़ेंगे चुनाव, घोषणा सुन खफा हुई CPI
शादी के तीन महीने के अंदर अलग होने जा रहे हैं प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस, इस मैगजीन ने किया दावा

ताजा अपडेट के लिए लिए आप हमारे फेसबुकट्विटरइंस्ट्राग्राम और यूट्यूब चैनल को फॉलो कर सकते हैं

3 COMMENTS

  1. Nice post. I learn something more challenging on different blogs everyday. It will always be stimulating to read content from other writers and practice a little something from their store. I’d prefer to use some with the content on my blog whether you don’t mind. Natually I’ll give you a link on your web blog. Thanks for sharing.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here